दिल्ली के DCP का ट्वीट- दिवाली पर पटाखे फोड़ने पर भी जेल, क्या मैं अपने भारत में हूं, जय श्री राम

सुप्रीम कोर्ट( Supreme Court ) ने पर्यावरण प्रदूषण (Pollution) की समस्या को देखते हुए दिवाली( Diwali) पर सशर्त पटाखों को फोड़ने की ही इजाजत दी थी. कहा था कि दिवाली पर केवल ग्रीन पटाखें ही फोड़ें और वो भी रात दस बजे से पहले. आदेश का उल्लंघन करने वालों पर केस दर्ज कर पुलिस को कार्रवाई का आदेश दिया था.

दिवाली की रात दिल्ली में सुप्रीम कोर्ट के आदेश का उल्लंघन करने पर कई लोगों पर पुलिस ने कार्रवाई भी की. जिसको लेकर सोशल मीडिया पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर तमाम लोगों ने सवाल भी खड़े करने शुरू किए. सवाल उठाने वालों में दिल्ली पुलिस (Delhi police )के एक डीसीपी (उपायुक्त) देवेंद्र आर्य (DCP Devender Arya) भी शामिल हो गए.

उन्होने भी अपने ट्विटर हैंडल से सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले पर सवाल खड़े कर दिए. हालांकि ट्वीट पर हंगामा मचने पर उन्होंने उसे डिलीट कर दिया, फिर एक दूसरे ट्वीट में कहा कि उनसे लापरवाही हो गई थी.यह उनका विचार नहीं है. वह अपनी लापरवाही के लिए माफी मांगते हैं.

दिल्ली पुलिस के डीसीपी देवेंद्र आर्य का पटाखों पर पाबंदी से जुड़ा वह ट्वीट जो उन्होने विवाद के बाद डिलीट कर दिया.

दरअसल, डीसीपी ने अंग्रेजी में जो ट्वीट किया, उसका अर्थ रहा- “दिवाली पर बम और पटाखे बजाने पे जेल हो सकती है. कभी सोचा नहीं कि ये दिन आएगा. क्या मैं अपने भारत देश में ही हूं? जय श्री राम. जय हिंद.” हालांकि, इस ट्वीट के वायरल होने के बाद उन्होंने इसे डिलीट कर दिया. दिल्ली पुलिस ने हालांकि शुक्रवार को सफाई देते हुए कहा कि उसका इस ट्वीट से कोई लेना-देना नहीं है क्योंकि अधिकारी ने इसे अपने निजी ट्विटर हैंडल से पोस्ट किया है. मामले ने तूल पकड़ा तो डीसीपी ने दूसरे ट्वीट में सफाई पेश करते हुए कहा, ‘‘ यह मेरे हिस्से से हुई लापरवाही थी. यह किसी तरह का विचार या बयान नहीं दिखलाता है. मैं इस लापरवाही के लिए माफी मांगता हूं.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *